कुत्ता 

कुत्ता या श्वान भेडिया कुल की एक प्रजाति हैा यह मनुष्य द्वारा तंत्रिका तंत्र को प्रभावित करने वाली एक भयंकर रेबीज़ होती हैा इसकी मादा को कुतिया और शावक को पिल्ला कहते हैा इसका औसतन जीवनकाल लगभग 40 वर्ष होता हैा 

सामान्य तथ्य : संरक्षण स्थिति, वैग्यानिक वर्गीकरण

कुत्ता, श्वान, कुक्कुर जीवाश्म काल :0.015-0मिलियन 

पीले लैब्रेडॉर रिद्रीवर श्वान का चित्र, जो वर्तमान की बहुप्रचलित  प्रजातियो मे से एक हैा 

संरक्षण  स्थिति 

अधिजगत:सुकेन्द्रिक

जगत:पशु 

संघ:रज्जुकी 

वर्ग:स्तन धारी 

उपवर्ग:धोरिया 

गण:कार्नीबोरा 

उपगण:कैनिफोर्मिया

कुल:कैनिडाय

उपकुल:कैनिनाए

ट्राइव:कानीमै

वंश:कानीस

जाति:सी लूपूस

उपजाति:c. I. Familiaris

त्रिपद नाम-canis lupus familiari

उत्पत्ति और विकास 

कुत्ते 11-16,000 साल पहले पश्चिमी यूरोप मे भेडिया को पालतू बनाने से शुरू हुए थेा यह समय जब मानव शिकारी थे के दौरान का हैा हो सकता है कि आद्य -कुत्ते प्रारम्भिक मानव द्वारा शिकार को पकडने मे सहायता प्रदान करते थे और बड़े शिकारियो रक्षा  प्रदान थेा

मनुष्यों के साथ भूमिका

प्रारम्भिक मानव के लिए कुत्तो का मूल्य, कुत्तो के दुनिया भर के संस्कृतियो सर्वव्यापी बनाने मे सहायक था  ा मानव समाज पर कुत्तो के प्रभाव से कुत्तो को उपनाम “आदमी का सबसे अच्छा दोस्त “मिला ा

प्रारम्भिक भूमिका 

भेडिया और उनके कुत्ते वंशज, मानव शिवरो के पास रहने से उनका महत्वपूर्ण  लाभ प्राप्त होता जैसे -अधिक सुरक्षा, अधिक विश्वसनीय भोजन स्त्रोत और अधिक मौका प्रजनन करने का ,साथ  ही मनुष्य को भी अपने शिविरो के पास रहने वाले कुत्तो से भारी लाभ हुआ होगा ा कुत्ते बर्बाद खाने की सफाई करते थे और शिकारियो या अजनवियो की उपस्थिति के बारें मे शिविर को सतर्क कर देते होगें ा  Manav vigyaani yhe Viswash karte hain ki prarambik manav ko Sikar me kutton ki samvedanshil sunghne ki Shakti ka mahetvpurn laabh Mila hoga. Aapsi sheastitve se prarambhik manav aur adhy-kutto ki jivit serene ki sambhavna bhut badi saaiveriya se utprwasi sambhavna saathi je rup  me kutton ke saath Bering jalsandhi ko paar kiye honge. Mul ameriki aadiwasiyon me kutton ka mehetv Adhik tha, ve vazan le jaane ke liye unhe estemal kiya karte the. 

Paltu zaanvero ke rup me:

Kutto ki paltu zanver ke rup me rakhne ka ek lamba itihas hain aur puratatvveta ko Esraael me khudi ke dauraan ek bujurg manav aur ek char se panch mahine ke pillon ke avsesh ek saath dfan mile. Suru me kutton ki ghar Raksha ke liye paltu zanver ke rup me rakha jata tha. 
Lekin dheere dheere samay ke saath kutte, manav jivan aur parivar ka hissa ban gaye. Kutte TV per adarsh paltu zanver ke rup me dikhaye gaye aur koi lokpriye TV show kiye gaye jin me kutton ko nayak ke rup me dikhaya gaya. 2009-2010 ke rastriye paltu zanver ke maalik ke sarvekchan ke anusaar keval sanyukt Rajya America me 7,75,00,000 logo ke pass paltu kutte hain. 

Create a free website or blog at WordPress.com.

Up ↑